श्रमिक परिवारों को जयराम कैबिनेट ने दी सौगात, आर्थिक मदद की तीसरी किश्त मिलेगी जल्द

0
238

शिमला ब्यूरो: हिमाचल मंत्रिमंडल की बैठक में श्रमिक परिवारों के लिए सौगातों की झड़ी लगा दी है। श्रमिकों की विवाह के लिए वित्तीय सहायता को 35 हजार से 51 हजार रुपये बढ़ाने और सिर्फ दो बच्चों के विवाह के लिए 51 हजार रुपये प्रत्येक को आर्थिक मदद मुहैया कराने का फैसला लिया गया है। बैठक में हिमाचल प्रदेश भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में पंजीकृत लाभार्थियों को 2 हजार रुपये की वित्तीय सहायता की तीसरी किश्त जारी करने का भी फैसला लिया गया।

कैबिनेट ने प्रदेश भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में पंजीकृत लाभार्थियों को दो बच्चों तक की शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता को बढ़ाने की मंजूरी दी है। अब पहली से आठवीं कक्षा तक की लड़कियों को 7 हजार रुपये की जगह 8 हजार रुपये की और लड़कों को 3 हजार रुपये की जगह 5 हजार रुपये की सालाना आर्थिक मदद मिलेगी। इसी तरह नौवीं से बाहरवीं कक्षा तक की लड़कियों को 10 हजार रुपये की जगह पर 11 हजार रुपये और लड़कों को 6 हजार की बजाय 8 हजार रुपये की वित्तीय मदद मुहैया कराई जाएगी। स्नातक शिक्षा के लिए लड़कियों को 15 हजार रुपये की जगह 16 हजार रुपये और लड़कों को 10 हजार रुपये के स्थान पर 12 हजार रुपये वित्तीय सहायता दी जाएगी, जबकि स्नातकोत्तर और एक से तीन वर्ष तक की अवधि वाले डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के लिए लड़कियों को 20 हजार रुपये के स्थान पर 21 हजार रुपये और लड़कों को 15 हजार रुपये के स्थान पर 17 हजार रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा व्यावसायिक पाठ्यक्रमों/डिग्री और पीएचडी, शोध पाठ्यक्रम के लिए लड़कियों को 35 हजार रुपये की जगह पर 36 हजार रुपये और लड़कों को 25 हजार की जगह 27 हजार रुपये सालाना आर्थिक मदद मिलेगी।