किसान क्रेडिट कार्डधारकों को रियायती कर्ज की मंजूरी, डेढ़ करोड़ किसान हुए लाभान्वित

0
9

डेस्क: कोरोना संकटकाल में किसानों के लिए ‘आत्मनिर्भर भारत’ पैकेज के तहत रियायती कर्ज की बैंकों से मंजूरी मिली है। इसके साथ ही किसानों के लिए 1.35 लाख करोड़ रुपए के रियायती कर्ज की भी मंजूरी दी गई है। वित्त मंत्रालय ने सोमवार को ये जानकारी दी है।
वित्त मंत्रालय के मुताबिक आर्थिक दिक्कतों का सामना कर रहे किसानों को उनकी आर्थिक जरूरतों को पूरा करने में मदद करना है। इसके तहत अर्थव्यवस्था में दो लाख करोड़ रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा हुई थी।

इसके चलते ही वर्तमान में मछली पालकों, पशु पालकों समेत 1.5 करोड़ किसानों को केसीसी तहत लाभान्वित किया जा चुका है। इसके लिए सभी किसान क्रेडिट कार्ड्स के लिए खर्च की कुल सीमा 1.35 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गई है।

यह भी पढ़ें   दुनिया में सबसे पहले ब्रिटेन में कोरोना वैक्सीन की मंजूरी, अगले हफ्ते से लगेंगे टीके

बता दें कि किसान क्रेडिट कार्ड के तहत किसानों को ब्याज पर दो फीसदी की आर्थिक मदद मिलती है। इसके अलावा समय पर कर्ज चुकाने वाले किसानों को तीन प्रतिशत की प्रोत्साहन छूट भी दी जाती है। वहीं मौजूदा वक्त में किसानों को किसी तरह की समस्या न हो। इसके लिए KCC की लोन लिमिट को एक लाख से बढ़ाकर 1.60 लाख रुपए कर दिया गया है।